Home / आलेख

आलेख

चिन्ताजनक है पूंजी का बढ़ता असन्तुलन

भारत के अमीर और ज्यादा अमीर होते जा रहे हैं, गरीब और ज्यादा गरीब। इस बढ़ती असमानता से उपजी चिंताओं के बीच देश में अरब़पतियों की तादाद तेजी से बढ़ रही है। भारत के लिये विडम्बनापूर्ण है कि यहां गरीब दो वक्त की रोटी और बच्चों की दवाओं के लिए …

Read More »

आचार्य महाश्रमण मिट्टी से मानुष गढ़ता संत

अहिंसा की एक बड़ी प्रयोग भूमि भारत में आज साम्प्रदायिकता, अनैतिकता, हिंसा के घने अंधकार में एक संत-चेतना चरैवेति-चरैवेति के आदर्श को चरितार्थ करते हुए पांव-पांव चलकर रोशनी बांट रही है। जब-जब धर्म की शिथिलता और अधर्म की प्रबलता होती है, तब-तब भगवान महावीर हो या गौतम बुद्ध, स्वामी विवेकानंद …

Read More »

संकट में शीर्ष न्यायपालिका

अवधेश कुमार आम चुनाव के शोर के बीच हमारी शीर्ष न्यायपालिका उच्चतम न्यायालय के समक्ष आए गंभीर संकट पर देश का ध्यान उतना नहीं है जितना होना चाहिए। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई पर जबसे उच्चतम न्यायालय की एक पूर्व महिला कर्मचारी ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए सभी न्यायाधीशों …

Read More »

दुनिया में जल युद्ध के बढ़ते आसार

सलीम रज़ा हर हालात से निपटा जा सकता है लेकिन पानी के बगैर कोई भी जंग नहीं जीती जा सकती। पिछले काफी अरसे से भारत पानी की समस्या से जूझ रहा है। पानी की समस्या से निपटने के लिए भूगर्भीय वैज्ञानिक शेध में लगे हुये हैं। दिनो-दिन गिरते जल स्तर …

Read More »

 नेताओं का हित व जनता का अहित करते चुनाव कानून

विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र भारतवर्ष में चुनाव प्रक्रिया की देख-रेख व संचालन करने वाला भारतीय निर्वाचन आयोग बड़ी ही जि़म्मेदारी के साथ इस विश्वस्तरीय चुनौतीपूर्ण कार्य को करता आ रहा है। चुनाव आयोग आवश्यकता अनुसार समय-समय पर अपने नियमों व $कानूनों में तरह-तरह के परिवर्तन भी करता रहता है। …

Read More »

बिना लक्षण वाले दिल के दौरे बढ़ रहे हैं

डॉ. नवीन भामरी विभागाध्यक्ष और निदेशक  कार्डियोलॉजी, मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल नई दिल्ली बिना लक्षण वाले दिल के दौरे को चिकित्सकीय शब्दावली में असिम्टोमैटिक हार्ट अटैक कहा जाता है और इसे भारत में सालाना हृदय रोगों और यहां तक कि समयपूर्व मौत के लगभग 45-50 प्रतिशत मामलों के लिए जिम्मेदार …

Read More »

और क्या-क्या करें एम.जे.अकबर

आर.के.सिन्हा एम.जे.अकबर ने “मीटू कैंपेन” में आरोप लगने के कारण केन्द्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया। राजनीतिक शुचिता की दृष्टि से यह कुछ हद तक जरूरी भी था। उनकी कुछ पूर्व महिला सहयोगियों ने उन पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे। इस केस में दो बातें गौर करने लायक …

Read More »

दशहरा काण्ड के दोषियों को सख्त सजा मिलनी चाहिए

शकील सिद्दीकी अमृतसर में दशहरा ‘जानलेवा’ साबित हुआ। सारी खुश्यिां और उत्साह भारी गम में तब्दील हो गया। हादसे में करीब 61 मासूम लोग मारे गए और इससे ज्यादा घायल हुए। हादसे के बाद रेलवे ट्रैक पर आधा किलोमीटर तक लाशें बिखरी पड़ी थीं, इस नजारे के बारे में सोचकर …

Read More »

गरीबों के जीवन में उतरती रोशनी

-ललित गर्ग- क्राउडफंडिंग एक आधुनिक सौगात है, यह वह प्रक्रिया है, तकनीक है, चंदे का नया स्वरूप है जिसके अन्तर्गत जरूरतमन्द अपने इलाज, शिक्षा, व्यापार आदि कीे आर्थिक जरूरतों को पूरा कर सकता है। विदेशों में यह लगभग स्थापित हो चुकी है और भारत में इसका चलन तेजी से बढ़ …

Read More »

दीपावली पर आत्मा की ज्योति जगाएं

-आचार्य महाश्रमण- ज्योति पर्व दीपावली संकल्प का पर्व है और सबसे बड़ा संकल्प होना चाहिए मनुष्य स्वयं को बदलने के लिये तत्पर हो। सरल नहीं है मनुष्य को बदलना। बहुत कठिन है नैतिक मूल्यों का विकास। बहुत-बहुत कठिन है आध्यात्मिक चेतना का रूपांतरण। बहुत कठिन है अहिंसा की स्थापना। बहुत …

Read More »