Home / आलेख (page 2)

आलेख

फिर अमृतसर ने देखा ‘जलियांवाला बाग’ भाग दो

आर.के.सिन्हा गुरुओं की नगरी अमृतसर में दशहरे के दिन जो कुछ भी घटित हुआ उससे सारे देश का मर्माहत होना समझ आता है। रावण वध को देखने जुटी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ पर कहर टूट पड़ा। अमृतसर ने लगभग 100 सालों के बाद एक फिर से जलियांवाला बाग की यादें …

Read More »